Keywords- Astrology 2020, new year 2020, happy new year 2020, Astrology News in Hindi, Predictions News in Hindi, Predictions Hindi News,Hindu New Year 2020 Kab Hai,Hindu New Year 2020,Hindu New Year,Hindu New Year 2020 Date,hindu new year 2020 date in india calendar,hindu new year 2020 in hindi,hindu new year 2020 date in hindi,hindu new year 2020 kab manaya jata hai,hindu new year rashifal 2020,hindu new year rashifal,hindu new year rashifal in Hindi,hindu new year Horoscope 2020,hindu new year Horoscope, new year Horoscope 2020,hindu new year Horoscope,hindu new year Rashifal 2020,hindu new year rashifal,hindu new year 2020 date,hindu new year date,hindu new year 2019 date,hindu calendar 2020 pdf,hindu calendar 2020 with tithi in hindi pdf,january 2020 hindu calendar,indian new year 2020,hindu nav varsh 2020 date,hindu nav varsh chaitra navratri, vikram samvat 2077, hindu calendar 2020, new year calendar 2020, grah yog, grah 2020, jyotish astrology grah nakshatra yog, gudi padwa hindu nav varsh, gudi padwa hindu new year,hindu nav varsh calendar 2020,हिंदू नववर्ष 2020 कब है,हिंदू नववर्ष 2020,हिंदू नववर्ष,हिंदू नववर्ष 2020 तिथि,हिंदू नववर्ष तिथि और समय,हिंदू नव वर्ष 2020 कब है,हिन्दू नव वर्ष राशिफल,हिन्दू नववर्ष राशिफल 2020,हिन्दू नववर्ष राशिफल इन हिंदी, हिंदू नववर्ष राशिफल बताएं,हिंदू नववर्ष का राशिफल,हिन्दू नववर्ष का राशिफल बताएं,हिन्दू नव वर्ष 2020 कब है,हिन्दू नव वर्ष कब मनाया जाता है,हिन्दू नव वर्ष 2020,हिन्दू नव वर्ष 2077 कब है,2020 में हिंदू नव वर्ष कब है,हिन्दू नव वर्ष 2076 कब है, Hindu New Year (Hindi Nav Varsh) 2020: Hindu Naya Saal 2020 Start On Chaitra Navratri 25 March 2020,

भारतीय कैलेंडर के हिसाब से अगला हिन्दू नव वर्ष 25 मार्च 2020 को आएगा। विक्रम संवत कैलेंडर के अनुसार चैत्र शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से नए साल की शुरुआत होती है जो कि इस बार अंग्रेज़ी कैलेंडर के हिसाब से 25 मार्च 2020 को शुरू होगा। भारतीय कैलेंडर जिसके आधार पर हिन्दू नव वर्ष मनाया जाता है, वह शक संवत आधारित बेहद प्राचीन कैलेंडर पर आधारित है। इसी शक संवत आधारित कैलंडर को भारत का राष्ट्रीय कैलेंडर या राष्ट्रीय पंचांग भी कहा जाता है। भारत की आज़ादी के बाद 1957 में आधिकारिक रूप से शक संवत आधारित पंचांग को भारत का राष्ट्रीय पंचांग घोषित किया गया था।

Leave a Reply