Surya Grahan December 2019-Effects on Your Rashi

दिसंबर माह में लगने वाला सूर्य ग्रहण आंशिक सूर्यग्रहण होगा, जिसे वैज्ञानिक भाषा में वलयाकार सूर्य ग्रहण कहा जाता है, तो आइए जानते हैं सूर्य ग्रहण के प्रारंभ और समाप्त होने का समय, सूर्य ग्रहण 2019 के सूतक काल का समय, सूतक काल में क्या करें और क्या न करें, सूर्य ग्रहण किस राशि और नक्षत्र में लगेगा, कैसा होगा इस बार का सूर्य ग्रहण, सूर्य ग्रहण की धार्मिक मान्यताएं, सूर्य ग्रहण के वैज्ञानिक मान्यताएं और सूर्य ग्रहण की कथा के बारे में…
सूर्य ग्रहण 2019 तिथि (Surya Grahan 2019 Date And Time In India)
सूर्य ग्रहण दिसंबर 2019 में 26 दिसंबर 2019 को लगेगा
सूर्य ग्रहण प्रारंभ और समाप्त होने का समय (Surya Grahan StartingAnd Ending Timing)
सूर्य ग्रहण दिसंबर 2019 प्रारंभ समय – सुबह 8 बजकर 17 मिनट (26 दिसंबर 2019)
सूर्य ग्रहण परमग्रास – सुबह 9 बजकर 31 मिनट (26 दिसंबर 2019)
सूर्य ग्रहण दिसंबर 2019 समाप्ति समय – सुबह 10 बजकर 57 मिनट (26 दिसंबर 2019)
सूर्य ग्रहण 2019 सूतक काल का समय (Surya Grahan 2019 Sutak Kaal Timing)
सूतक काल प्रारंभ- शाम 5 बजकर 31 मिनट से (25 दिसंबर 2019)
सूतक काल समाप्त – अगले दिन सुबह 10 बजकर 57 मिनट तक (26 दिसंबर 2019)
 
जिस तरह से ग्रह-नक्षत्रों के बदलने से राशियों पर भी प्रभाव पड़ता है। ठीक उसी प्रकार सूर्य ग्रहण का भी राशियों पर असर पड़ता है। ये किसी के लिए शुभ स्थितियां लेकर आता है तो किसी के लिए अशुभता। बता दें कि इस बार 26 दिसंबर को पड़ने वाला सूर्य ग्रहण इस साल का आखिरी सूर्य ग्रहण है। यह 12 राशियों में से 5 राशियों के लिए अशुभ रहने वाला है। आइए जानते हैं कि ये कौन सी राशियां हैं और इनपर कैसा प्रभाव पड़ेगा? और इनसे बचने के लिए क्‍या उपाय हैं?
 

एक रेखा में होंगे तीन ग्रह

 महत्वपूर्ण बात ये है कि इस सूर्य ग्रहण में सूर्य, चंद्रमा के साथ ज्ञान, प्रगति और संतान का कारक ग्रह गुरु बृहस्पति ये तीनों ग्रह एक ही रेखा में होंगे। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार साल के अंतिम सूर्य ग्रहण का प्रभाव सभी राशियों पर शुभाशुभ होगा। 
इस ग्रहण की अवधि 5 घंटे 36 मिनट की होगी। कंकण की कुल अवधि 3 मिनट 34 सैकेंड रहेगी। ग्रहण का आरंभ सुबह 8 बजे से होगा और दोपहर 1 बजकर 36 मिनट पर समाप्‍त होगा। ग्रहण की कंकण आकृति केवल दक्षिण भारत में दिखेगी। शेष भारत में इस ग्रहण को खण्डग्रास के रूप में देखा जा सकेगा।
 

 मेष राशि पर जानें प्रभाव

जिन 5 राशियों पर सूर्य ग्रहण का प्रतिकूल प्रभाव पड़ेगा मेष राशि उनमें से एक है। इस राशि के लोगों को कई तरह की परेशानियों को सामना करना पड़ेगा। किसी भी काम को करने में जरूरत से ज्‍यादा वक्‍त लगेगा। व्‍यापार में भारी नुकसान का सामना करना पड़ सकता है। इसके अलावा किसी न किसी बात को लेकर तनाव बना रहेगा। किसी तरह के बड़े फैसले लेने में आपको तमाम मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा।

वृश्चिक राशि पर असर

सूर्य ग्रहण का वृश्चिक राशि पर भी गहरा प्रभाव पड़ेगा। इस राशि के जातको को स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। खानपान का विशेष ख्‍याल रखें। किसी न किसी वजह से भागदौड़ बनी ही रहेगी। परिवार में भी किसी न किसी की सेहत को लेकर परेशानी बनी रहेगी। मानसिक तनाव की भी स्थितियां रहेंगी। इसके अलावा कोई काम बनते-बनते बिगड़ जाएगा। वाणी में कटुता के चलते पारिवारिक रिश्‍तों में दरारें पड़ेंगी।
 

मिथुन राशि और सूर्य ग्रहण

मिथुन राशि वाले जातकों को दांपत्‍य जीवन में भारी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। जीवनसाथी के साथ अनबन भी बनी ही रहेगी। नौकरी में असफलता का सामना करना पड़ेगा। प्रमोशन मिलते-मिलते रुक सकता है। ग्रहण से कम से कम 15 दिनों तक आप लोन और कर्ज लेने से बचें। लिया गया लोन चुकाने में परेशानी आएगी। पिता की सेहत भी बिगड़ सकती है और उनके साथ अनबन भी हो सकती है।

तुला राशि पर सूर्य ग्रहण का प्रभाव

साल का अंतिम सूर्य ग्रहण जिन राशियों के लिए अशुभ परिस्थित‍ियां बना रहा है तुला उनमें से अंतिम राशि है। इन राशि के जातकों को परिवार में कई तरह की परेशानियों और अनबन का सामना करना पड़ेगा। छोटे भाई-बहनों के साथ झगड़े होंगे। अगर खेलकूद में प्रतिभाग करते हैं तो इस दौरान चोट-चपेट की संभावना है। इसके अलावा संतान की ओर से भी परेशनियों का सामना करना पड़ सकता है। ध्‍यान रखें कि कोई भी काम बिना खुद की मेहनत के पूरा नहीं होता। ऐसे में दूसरों के भरोसे अपना काम छोड़ने के बजाए स्‍वयं ही उसे निस्‍तारित करने का प्रयास करें। अन्‍यथा यह सूर्य ग्रहण आपके लिए तमाम तरह की परेशनियां खड़ी कर देगा।

मकर राशि वालों को परेशानी

शनि की इस राशि पर ग्रहण का प्रतिकूल प्रभाव रहेगा। आने वाले साल में इसी राशि में शनि भी जाने वाले हैं। ऐसे में साल के आरंभ से ही इन्हें उलझन और परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। आर्थिक मामलों में इन राशि वालों को बहुत ही सावधानी से चलना होगा क्योंकि धन हानि का योग है। कारोबार में कम मुनाफा निराश करेगा। पारिवारिक विषयों को लेकर उलझन में रहेंगे।
 

सूर्य ग्रहण के प्रभाव से राहत पाने के उपाय

ज्योतिर्विद श्यामा गुरुदेव बताते हैं कि सूर्य ग्रहण के प्रभाव से राहत पाने के लिए जातक इस दिन पूजा-पाठ को प्राथमिकता दें। इसके अलावा नियमित रूप से अपने इष्‍ट देव की पूजा-आराधना करते हुए गुड़-चने का दान करें। इससे नकारात्‍मक ऊर्जा का नाश होता है और सकारात्‍मक ऊर्जा से आपका मन शांत और प्रसन्‍न रहता है। ग्रहण के दिन काले रंग का कंबल दान करें। इससे भी नकारात्‍मक ऊर्जा क्षीण होती है।

सूर्य ग्रहण के बुरे प्रभाव से बचने के लिए राशि के अनुसार उपाय (Surya Grahan Ke Upay) करना अति आवश्यक होता है क्योंकि सूर्य ग्रहण का असर लगभग 15 दिनों तक रहता है और इस साल 26 दिसंबर 2019 को लगने वाले सूर्य ग्रहण का असर अगले साल यानी 10 जनवरी 2020 तक रहेगा। ऐसे में आपको सूर्य ग्रहण के अशुभ परिणाम को कम करने के लिए राशि के अनुसार कुछ उपाय अवश्य करने चाहिए तो चलिए जानते हैं सूर्य ग्रहण के बुरे प्रभाव से बचने के लिए करें राशि के अनुसार उपाय....आप अपनी कुंडली मे स्थित ग्रहो नक्षत्रों के अनुसार विशेष उपाय जानने हेतु कॉल कर सकते है अथवा निचे दिए गए लिंक पर क्लिक कर सकते है https://p-y.tm/w-MKB7f यदि आप अपनी कुंडली दिखा कर परामर्श लेना चाहते हो या किसी समस्या से निजात पाना चाहते हो तो कॉल करे साथ ही साथ यदि आप जन्मकुंडली, वर्षफल, या भृगु सहिंता कुंडली बनवाने हेतु भी सम्पर्क करें: ज्योतिर्विद श्यामा गुरुदेव Mobile & Whatsapp Number : 7620314972

Surya Grahan 2019 Effects: सूर्य ग्रहण के बुरे प्रभाव से बचने के लिए राशि के अनुसार उपाय
Surya Grahan 2019 Effects: सूर्य ग्रहण के बुरे प्रभाव से बचने के लिए राशि के अनुसार उपाय
https://p-y.tm/w-MKB7f

This Post Has One Comment

Leave a Reply