Makar Sankranti 2021:राशि अनुसार मकर संक्रांति के दान

जानिए क्या करे मकर संक्रांति के दिन - राशि अनुसार दान करने से यज्ञ के बराबर फल मिलेगा।

हिन्दू धर्म में मकर संक्रांति का अत्यधिक महत्त्व है इस दिन सूर्य धनु से मकर राशि में प्रवेश करते है। शास्त्रों के अनुसार इस दिन दान करने से सहस्त्रो गुणा पुण्य मिलता है जो अक्षय होता है। मकर संक्रांति के दिन किये गए दान से समस्त पापो का नाश होता है, पितरो को स्वर्ग मिलता है, परिवार में सुख-शान्ति और सुख समृद्धि की प्राप्ति होती है। मान्यता है कि इस पावन दिन यदि अपनी राशि के अनुसार दान किया जाय तो वह बहुत ही उत्तम होता है, जानिए क्या करे मकर संक्रांति के दिन राशिनुसार दान ,

मेष राशि

:- यदि आप मेष राशि ( चू, चे, ला, ल, ली, लू, ले लो, अ नाम अक्षरों से शुरू होने वाले व्यक्ति ) के जातक हो तो मेष राशि के लिए मकर का सूर्य आर्थिक व् शारीरिक परेशानी देता है व् अपने मित्रों व् रिश्तेदारों से लड़ाई झगड़ा करा देता है, मेष राशि का स्वामी मंगल है, इसलिए मेष राशि के जातक को मकर संक्रांति के दिन ॐ सूर्याय नम: मंत्र बोलकर सूर्य देव को अर्घ्य देना चाहिए, जल में पीले पुष्प, हल्दी, तिल मिलाकर सूर्य भगवान को अर्घ्य दें।

मेष राशि वाले आप इस दिन तिल, गुड़ और मच्छरदानी का दान दें।

कार्यो में श्रेष्ठ सफलता मिलेगी, संतान संस्कारी होगी।

मेष राशि वाले इस दिन गाय को गुड़ की दो डली अवश्य ही खिलाएं।

वृषभ राशि

यदि आप वृषभ राशि ( ई, उ, ए, ओ, वा, वि, वू, वे, वो नाम अक्षरों से शुरू होने वाले व्यक्ति ) के जातक है तो मकर राशि का सूर्य आपको मानसिक परेशानी व् आपके धन की हानि देता है व् आपके शत्रु से परेशानी दिलाता है आपका धन खर्च करवाता है इसलिए इन सब से बचने के लिए आपको मकर संक्रांति के दिन आदित्यह्रदय स्त्रोत का पाठ करना चाहिए व् ज्योतिष से सलाह लेकर माणिक रत्न धारण करना चाहिए। वृषभ राशि का स्वामी शुक्र है।

वृषभ राशि वालों के लिए नीला व जामुनी रंग भाग्यशाली रंग होता है। सफेद एवं हल्का नीला रंग इनके लिए शुभ होता है। जेब में हमेशा सफेद रुमाल रखने से लाभ होता है।

वृषभ राशि वाले मकर संक्रांति के दिन जल में सफेद चंदन, दुग्ध, श्वेत पुष्प, तिल डालकर सूर्य को अर्घ्य दें।

इस राशि के लोगों को मकर संक्रांति के दिन चाँदी, ऊनी वस्त्र एवं सफ़ेद तिल का दान करना शुभ रहेगा।

इससे कार्यो में अस्थिरता दूर होंगी, महत्वपूर्ण योजनाएं शुरू हो सकती है।

वृषभ राशि वाले इस दिन गाय को पके मीठे चावल अवश्य ही खिलाएं। बड़ी जवाबदारी मिलने तथा महत्वपूर्ण योजनाएं प्रारंभ होने के योग बनेगें।

मिथुन राशि

 

यदि आप मिथुन राशि ( का, की, कु, घ, ड, छ, के, को, हा. हो नाम अक्षरों से शुरू होने वाले व्यक्ति ) के जातक है तो मकर राशि का सूर्य आपके लिए बहुत अच्छा रहता है आपकी सारी मनोकामनाए पूरी करता है आपको अपनी नौकरी में उन्नति दिलाता है इसके साथ सुख व् शांति प्रदान करता है मिथुन राशि के जातक के लिए मकर संक्रांति के दिन विशेष रूप से तांबे की बनी वस्तु का दान करना अच्छा रहता है व् लाभकारी होता है !

मिथुन राशि वालों के लिए पीला व केसरिया रंग भाग्यशाली रंग होता है। इस रंग के वस्त्र पहनने से मानसिक शांति रहती है।

मिथुन का स्‍वामी बुध है। मिथुन राशि वाले मकर संक्रांति के दिन जल में तिल, दूर्वा तथा पुष्प मिलाकर सूर्य को अर्घ्य दें।

मिथुन राशि के लोग इस दिन मूंग की दाल की खिचड़ी, तिल एवं मच्छरदानी का दान करें।

गाय को हरा चारा खिलाएं , इससे धन लाभ के योग बनेगें।

कर्क राशि 

यदि आप कर्क राशि ( ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो नाम अक्षरों से शुरू होने वाले व्यक्ति ) के जातक है तो मकर राशि का सूर्य आपके लिए आपके पुराने साथी से मिलवाता है आपके घर में कुछ मांगलिक कार्य करवाता है आपको सुख व् शांति प्रदान करता है ! आपको मकर संक्रांति के दिन विशेष रूप से किसी तीर्थ स्थान की यात्रा करनी चाहिए या आपको गंगाजल से स्नान करना चाहिए ! कर्क राशि का स्‍वामी चंद्रमा है, कर्क राशि के जातक जल में दुग्ध, चावल, तिल मिलाकर सूर्य देव को अर्घ्य दें।

चंद्रमा के प्रभाव में रहने वाले कर्क राशि के जातकों के लिये पीला, सफेद, क्रीम और हल्का गुलाबी रंग शुभ होता है।

कर्क राशि के जातक इस दिन तिल, साबूदाना, सफ़ेद ऊन और चाँदी का दान करें।

इससे घर में प्रेम, सुख- शान्ति आएगी।

कर्क राशि वाले इस दिन गाय को चावल में दूध और चीनी मिलाकर अवश्य ही खिलाएं।

सिंह राशि

यदि आप सिंह राशि ( मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे नाम अक्षरों से शुरू होने वाले व्यक्ति ) के जातक है तो मकर राशि का सूर्य आपके लिए मानसिक परेशानी कम करेंगा पर वाहन दुर्घटना दे सकता है इस कारन से आपको आर्थिक परेशानी का सामना करना पड़ सकता है !

इसलिए आपको मकर संक्रांति के दिन माणिक, कमल का फूल, कंबल, गुड़, लाल चंदन, लाल-वस्त्र, तांबा, केसर, स्वर्ण, व मच्छरदानी अपनी क्षमतानुसार रविवार को दान करना लाभकारी होगा !

सिंह राशि वालों के लिए सुनहरी, लाल और सूर्य के सारे रंग भाग्यशाली रंग होते हैं।

सिंह राशि का स्वामी सूर्य है। सिंह राशि वाले मकर संक्रांति के दिन जल में कुमकुम तथा रक्त पुष्प, तिल डालकर सूर्य को अर्घ्य दें।

कन्‍या राशि

यदि आप कन्या राशि ( टो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो नाम अक्षरों से शुरू होने वाले व्यक्ति ) के जातक है तो मकर राशि पर सूर्य आने पर आपको गुस्सा जयादा आएगा व् आपकी धन की हानि होगी उसके फलस्वरूप आपके मान सम्मान में कमी देखने को मिलेगी साथ में परिवार से दूरियां भी बन सकती है !

 इसलिए आपको मकर संक्रांति के दिन माणिक के साथ सोने का दान का भी दान गुरुजन को करना चाहिए ! कन्‍या राशि का स्वामी बुध है। कन्या राशि के जातक मकर संक्रांति के दिन प्रात: उगते हुए सूर्य को जल में तिल, दूर्वा, पुष्प डालकर सूर्य देव को अर्घ्य दें।

ऐसे जातक जिनकी राशि कन्या है यदि वह बुधवार को हरे रंग के वस्त्र पहनें तो शुभ होता है। इसके अलावा इस राशि के जातकों के लिए शुभ रंग स्वर्ग पीला, हरा और गुलाबी शुभ होता है।

कन्या राशि वाले आप मकर संक्रांति के दिन तिल, (पीला, हरा और गुलाबी रंग का) कंबल, तेल, उड़द दाल, मूंग की दाल की खिचड़ी का दान करें।

इससे आप लोगो को शुभ समाचारो की प्राप्ति होगी, आकस्मिक धन लाभ होगा।

आप लोग मकर संक्रांति के दिन गाय को हरा चारा एवं भीगी हरी मूंग भी अवश्य ही खिलाएं।

तुला राशि 

तुला राशि का स्‍वामी शुक्र है। यदि आप तुला राशि ( रा, रि, रु, रे, रो, ता, ती, तू, ते नाम अक्षरों से शुरू होने वाले व्यक्ति ) के जातक है तो मकर राशि पर सूर्य आपकी राशि के लिए सामाजिक सेवा करने का भाव प्रकट करेंगा आपकी धार्मिक यात्रा भी हो सकती है आपको आर्थिक कष्ट के साथ आपके परिवार से दुरी आ सकती है इसलिए आपको मकर संक्रांति के दिन आदित्यह्रदय स्त्रोत का पाठ करना चाहिए !

सफेद वस्त्र धारण करना श्रेष्ठ होगा। तिल और मच्छरदानी का दान करें। शुभ रंग- हरा, अंक- 3

 तुला राशि के जातक जल में दूध, सफेद चंदन, चावल, तिल मिलाकर सूर्य देव को अर्घ्य दें।

तुला राशि के जातक मकर संक्रांति के दिन चावल, चीनी, सफेद तिल, तेल, रुई, वस्त्र, राई, मच्छरदानी दान करें।

इससे व्यापार में श्रेष्ठ लाभ मिलेगा, आय के नए स्रोत्र खुलेंगे।

तुला राशि वाले इस दिन गाय को पके हुए चावल भी अवश्य ही खिलाएं।

वृश्चिक राशि

यदि आप वृश्चिक राशि ( तो, ला, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू नाम अक्षरों से शुरू होने वाले व्यक्ति ) के जातक है तो मकर राशि पर सूर्य का गोचर आपकी राशि पर होने पर आपकी उन्नति का लाभ मिलेगा ! आपको पारिवारिक सुख की प्राप्ति होगी यदि आप शारीरिक रूप से परेशान है तो आपके स्वास्थ्य में सुधार आएगा ! आपका मान सम्मान बढेगा !

आपको मकर संक्रांति के दिन ॐ सूर्याय नम:;  का मंत्र का जाप करना बहुत ज्यादा लाभकारी व् हितकारी होगा !

केशरी वस्त्र धारण करना उचित होगा। तिल, साबूदाने और ऊन का दान करें। इस राशि के जातकों के लिए शुभ रंग सफेद, भगवा या नारंगी होगा । अंक- 4

वृश्चिक राशि का स्‍वामी मंगल है। इस राशि के जातक प्रात: जल में रोली, लाल पुष्प तथा तिल मिलाकर सूर्य देव को अर्घ्य दें।

वृश्चिक राशि के जातक मकर संक्रांति के दिन गुड़, लाल वस्त्र, खिचड़ी, तिल एवं लाल कंबल, साबूदाने और ऊन का दान करें।

इससे कार्यो में श्रेष्ठ लाभ और यश की प्राप्ति होगी।

वृश्चिक राशि वाले इस दिन गाय को गुड़ भी अवश्य ही खिलाएं।

धनु राशि 

यदि आप धनु राशि ( ये, यो, भा, भी, भू, धा, फा, ढा, भे नाम अक्षरों से शुरू होने वाले व्यक्ति ) के जातक है तो मकर राशि का सूर्य आपके जीवन में वैवाहिक जीवन में सुख शांति की कमी ला सकता है ! आपके घर में रोग व् आर्थिक परेशानी दे सकता है !

इसलिए लाल चंदन, तांबा, गुड़ रविवार को दान करना चाहिए ! धनु राशि का स्‍वामी गुरु है। धनु राशि वाले आप मकर संक्रांति के दिन जल में हल्दी / केसर, पीले पुष्प तथा गुड़ मिलाकर सूर्य देव को अर्घ्य दें।

शुभ मौकों पर केशरी, पीले रंग के वस्त्र धारण करेंगे तो उनके लिए लाभदायक होगा ।

धनु राशि वाले आप मकर संक्रांति के दिन तिल, गुड़, चने की दाल एवं यदि सामर्थ्य हो तो सोने की कोई भी वस्तु का दान करें।

शुभ अंक 5

इससे जीवन में मनचाही सफलता और ऐश्वर्य की प्राप्ति होगी।

धनु राशि वाले मकर संक्रांति के दिन गाय को भीगी चने की दाल, कम से कम दो केले अवश्य ही खिलाएं ।

मकर राशि 

मकर राशि का स्‍वामी शनि है। मकर राशि के जातक आप मकर संक्रांति के दिन प्रात: जल में नीले पुष्प, काले तिल, चीनी मिलाकर सूर्य देव को अर्घ्य दें।

यदि आप मकर राशि ( भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी नाम अक्षरों से शुरू होने वाले व्यक्ति ) के जातक है तो मकर राशि पर सूर्य का गोचर होने पर आपके जीवन पर आपको अपने अधिकारियों से परेशानी का सामना करना पड़ सकता है ! आपको दुर्घटना से सावधान रहना होगा इसके साथ आप मानसिक परेशानी का भी सामना करना पड़ सकता है !

मकर राशि वाले आप मकर संक्रांति के दिन कड़वे तेल, तिल, काळा या नीला कंबल, उड़द की खिचड़ी और पुस्तक का दान करें।

इससे शत्रु परास्त होंगे, मान-सम्मान की प्राप्ति होगी।

मकर राशि वाले आप लोग मकर संक्रांति के दिन काली गाय को उड़द की खिचड़ी या भीगी उड़द की दाल अवश्य खिलाएं ।

शुभ रंग- हरा, अंक 6

कुंभ राशि 

कुंभ राशि के स्‍वामी भी भगवान शनि है। कुम्भ राशि के जातक मकर संक्रांति के दिन प्रात: जल में नीले पुष्प, काले उड़द, काले तिल, चीनी, दो बून्द सरसों का तेल मिलाकर सूर्य देव को अर्घ्य दें।

यदि आप कुम्भ राशि ( गु, गे, गो, सा, सी, सु, से सो, सा नाम अक्षरों से शुरू होने वाले व्यक्ति ) के जातक है तो मकर राशि पर सूर्य का गोचर होने पर आपको अपने शत्रुओ से विजय प्राप्त होगी ! मानसिक परेशानी से निजात मिलेगा ! आर्थिक सुख की प्राप्ति होगी ! आपके परिवार में सुख शांति आएगी !

आपको मकर संक्रांति के दिन विशेष रूप से सूर्य की आराधना करनी चाहिए आदित्य ह्रदय स्त्रोत का पाठ करना चाहिए व् कंबल का दान करें !

कुंभ राशि के लोग मकर संक्रांति के दिन काले तिल, उड़द की खिचड़ी, तेल,साबुन, नीले वस्त्र वा कंघी का दान करें। संक्रांति पर सफेद वस्त्र धारण करें। इससे मुक़दमे राजद्वार में सफलता मिलेगी, बल- साहस की प्राप्ति होगी, आत्मविश्वास भी बढ़ेगा।

कुंभ राशि वाले मकर संक्रांति के दिन काली गाय को उड़द की खिचड़ी, भीगी उड़द की दाल खिलाएं ।

मीन राशि

अंतिम राशि मीन राशि का स्‍वामी गुरु है। मीन राशि के जातक मकर संक्रांति के दिन प्रात: उगते हुए सूर्य देव को जल में हल्दी, केसर, पीले पुष्प, तिल मिलाकर अर्घ्य दें।

यदि आप मीन राशि ( दी, दू, थ, झ, दे, दो, चा, ची नाम अक्षरों से शुरू होने वाले व्यक्ति ) के जातक है तो मकर राशि पर सूर्य का गोचर आपके जीवन में उदर रोग से लेकर कोई परेशानी दे सकता है इसके साथ आपको पारिवारिक क्लेश का सामना करना पड़ सकता है ! इसलिए आपको लाल चंदन का दान करना चाहिए व् आदित्य-स्त्रोत का पाठ करना चाहिए !

संक्रांति पर लाल वस्त्र धारण करें। शुभ रंग- लाल, अंक- 9

मीन राशि के लोग मकर संक्रांति के दिन तिल, चने की दाल, गुड़, साबूदाना, कंबल, मच्छरदानी वा यदि संभव को तो स्वर्ण का दान करें।

इससे सुख-समृद्धि, यश की प्राप्ति होगी, राजद्वार से सम्मान मिलेगा।

मीन राशि के जातक आप लोग मकर संक्रांति के दिन गाय को भीगी चने की दाल, घी से चुपड़ी दो रोटी पर गुड़ रखकर अवश्य ही खिलाएं।

Bhrigu Samhita- The Journey of Your Birth & Karma Revealed-Jyotirvidh Shyama Gurudev

People from all walks of life, business, service, politics, films, army, religion etc, irrespective of caste, creed and belief transcending geographical boundaries have had their Bhrigu Samhita  Life Readings read out, by Jyotirvidh Shyama Gurudev, performed the remedies and rituals mentioned in their individul predictions done the required “Karma’s” and seen first hand the predictions of this miraculous Granth coming true and got themselves rid of obstacles in life.

The Bhrigu Patrika offered by India Astrology Foundation is strictly based on the principles of Bhrigu Samhita and answers to each and every problem of one’s life through effective remedies and detailed predictions. With multiple obstacles crippling our life, it’s glaringly evident that one would seek the help of this mystical science of future telling to neutralize the ill effects of past karma’s.

B h r i g u  S a m h i t a

भृगु संहिता by Maharshi Bhrigu, Bhrigu Astrology,Bhrigu Samhitahttp://indiaastrologyfoundation.in/astrology/bhrigu-samhita-astrology-report/

Get your Bhrigu Sanhita Horoscope & Reading

If you want to know about the journey of your Birth and Karma ,its effects on your present life Bhrigu Samhita  Horoscope Reading offers you lifetime life changing prediction.

The detailed Bhrigu Samhita Reading Will provide you insights into all the facets of your prominent life events, including, fitness, education, finance and job or business, career, purchase of vehicle, purchase of movable and immovable property, romance and marriage predictions with correct timing of its execution, kids, education, foreign travel etc. Your Bhrigu Samhita Horoscope and Reading from India Astrology Foundation includes predictions for the future, remedial measures and rituals which will not only solve current problems, but also give you an upperhand to ensure future happiness & prosperity by improving your Destiny & Life in the most simple and scientific manner.

The Bhrigu Samhita Horoscope Reading  is an exhaustive, detailed analysis of your Past –Present and Future births,which can not only change the direction of your life but will also serve as an indispensable guide for the rest of your life.

Bhrigu Sanhita Astrology Report Subscription Amount is INR 599/-

and 15 .00 USD

 

foreign subscribers click to subscribe.

Note

To get Your Bhrigu Samhita Horoscope  Click the Link Below

GET MY BHRIGU SAMHITA REPORT NOW

Leave a Reply